Tuesday, 24 April 2012

Tu He Meri Zindgee Hai

A Song...........

तुझको पाया दिल मैं  हारा 
पाया तुझको तो दिल ये पुकारा
     तू ही  मेरी ज़िन्दगी है तू हे मेरी बंदगी है-२

जब से तू आई ज़िन्दगी में ,
सपनो में देखि एक दुनिया।
फूलों तारों में खोजूं चेहरा तेरा,
खोया रहूँ मैं हर पल हर जगह 

      तू ही मेरी ज़िन्दगी है तू हे मेरी बंदगी है-२

एहसास मुझे अब ये होता है,
धड़कन चलती है मेरी तेरी सांसों से।
जब तू ना पास हो ये लगता है,
धड़कन रुक ना जाए इन हालातों से ।
        
       आवाज़ है तुझको लगायी 
       अबतो आजा तू ओ हरजाई।
      तू ही मेरी ज़िन्दगी है तू हे मेरी बंदगी है-२

तुझको पाया दिल मैं  हारा 
पाया तुझको तो दिल ये पुकारा
     तू ही  मेरी ज़िन्दगी है तू हे मेरी बंदगी है-२

2 comments: